Best motivational words about life in hindi|हमारे प्रयास एक न एक दिन जरूर सफल होगे

ये मायने नहीं रखता आप कितना तेज दौड़े मायने रखता है की आप कब थके

इस संसार में हर एक चीज का अंत निश्चित है चाहे वो जीवन हो चाहे वो पृथ्वी हो पशु पक्षी जंगल पहाड़ नदी कोई चीज स्थायी कभी नहीं रहती क्योंकि अगर कोई चीज स्थायी रहती है तो वो समय के नियम के दायरे से बाहर है वो ईश्वरत्व है

हर नये दिन के साथ तलाश की शुरुआत फिर से होती है

 जीवन में हमे सदैव उसी स्थान को अपना निवास बनाना चाहिए जहाँ सुकून महसूस हो जहाँ मन को शांति मिले जहाँ मन अशांत हो ऐसी जगहों पर रहने से कोई लाभ नहीं है ऐसे जगहों पर रहने से आपकी सोच विकृत हो जाती है

हर बड़ी बात लिखने के लिए छोटी सी जगह ही कागज की लगती है पूरा कागज भी कहाँ लगता है

दो शब्द भी उस कागज पर लिखा किसी की दुनिया बना भी देता है और किसी की दुनिया उजाड़ भी देता है

किसी भी घाटी को उसके पहाड़ उसके झरने उसकी नदियों उसके रंग बिरंगे फूल सुंदर बनाते हैं ठीक उसी तरह किसी भी मनुष्य को उसका आचरण उसकी कर्मठता उसकी अच्छी सोच उसका व्यवहार उसकी वाणी ही उसे सुंदर बनाती है

जिस तरह से तेज हवा के झोके से फूल रास्ते में टूट कर बिखर जाते हैं और जब कोई उस नजारे को देखता है तो उसे ये सबसे सुंदर नजारा लगता है ठीक उसी तरह से अगर हम अपने बुरे समय में अपने अंहकार को उस फूल की तरह ही अपने आगे बढने वाले मार्ग पर बिखेर दे तो हम भी हर किसी को सबसे अच्छे मनुष्य की तरह नजर आएंगे

 बहते पानी को रोकने के लिए रास्ते में कितनी सारे पत्थर राह को रोक कर खड़े रहते हैं मगर बहता पानी अपना रास्ता आगे जाने के लिए बना ही लेता है जैसे पानी को उन पत्थरो के होने से कोई फर्क ही नहीं पड़ता पानी तो एक नया रास्ता ही बना लेता है आगे बढ़ने के लिए

 जो रास्ता आपस में होने वाले टकराव को रोककर आगे बढ़ता है वही रास्ता सबसे खूबसूरत होता है जब दो कांटो के बीच फूल खिलता है तो वो गुलाब बन जाता है और जब बदबूदार कीचड़ में भी लोगों को खुद तक कीचड़ में उतरकर अपने पास आने के लिए जो विवश कर दे वो कमल कहलाता है

किसी भी मनुष्य को उसका आचरण उसकी कर्मठता उसकी अच्छी सोच उसका व्यवहार उसकी वाणी ही उसे सुंदर बनाती है

हम हर दिन को एक नयी शुरुआत जब तक मानते हैं तब तक हम जिंदा है जीवित है जिस दिन हमने ये मानना बंद कर दिया उसी दिन से हमारा जीवन पशु के समान हो जाएगा

अगर आपको सूरज का स्थान लेना है तो उसका केवल और केवल एक ही मार्ग है खुद को सूरज से भी ज्यादा चमकीला और प्रकाशवान बनाना

असफलता का जो कांटा दिल में चुभा है उसे जबतक हम निकाल कर फेंक नहीं देते तब तक वो असफलता का कांटा सदा तकलीफ देता रहेगा जो हमारे सफलता के बीच रोड़े अटकाता रहेगा

हमें अपने हर असफल प्रयास को सफल प्रयास में बदलने तक बस प्रयास करते रहना है यह नहीं देखना है की कितनी देर और कब तक प्रयास किया है हमने बल्कि ये अटूट विश्वास होना चाहिए मन में की

हमारे प्रयास एक न एक दिन जरूर सफल होगे

जीवन में आपकी उड़ान महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि महत्वपूर्ण है उस उड़ान के लिए सही दिशा में लगाई गयी आप की छलांग

हमें अपने हर असफल प्रयास को सफल प्रयास में बदलने तक बस प्रयास करते रहना है यह नहीं देखना है की कितनी देर और कब तक प्रयास किया है हमने बल्कि ध्यान बस इस बात पर केंद्रित करना होगा प्रयास एक न एक दिन सफल जरूर होगा

कांटे जब चूभते है तो हमें यह सीखाते है असावधानी पूर्वक किया गया कार्य जल्दबाजी में लिया गया फैसला जीवन भर कांटो की तरह ही हमे चुभते रहेगे

सफलता और असफलता सोच की बुनियाद पर टिका होता है

उड़ान महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि महत्वपूर्ण है उस उड़ान के लिए सही दिशा में लगाई गयी छलांग

जितना धैर्य संयम किसी भी कार्य में हो असफल होने के बाद भी तब निश्चित ही सफलता हल्के कदमों से बिना आहट के आ जाती है उसके पास

सफल होकर खुश होने में उतनी बड़ी बात नहीं है जितनी कही बड़ी बात असफल होकर भी अपनी खुशी को कायम रखने में है

हर अंधेरे ये बताने आता है जीवन में जितना घना अंधेरे अभी है उससे कहीं ज्यादा उजाला होगा दोपहर की धूप जितना उजाला होगा इतना उजाला होगा जो आंखों को भी चौंधिया कर रख देगा

अगर जीवन में वाकई मे कोई चीज जो सबसे अधिक मायने रखती है और उसे पाने का विचार मन में हो तो सबसे पहले उस चीज को खोने का विचार मन से त्याग दो आधा काम तुम्हारा ऐसे ही हो जाएगा

ये मत सोचो कभी जीवन में की तुम कितने असहाय हो बल्कि इस बात पर गौर करो असहाय होकर तुम कमजोर बन गये हो और युद्ध वही योद्धा जीतता है जो कभी खुद को असहाय की स्थिति में आने नहीं देता है तुम्हारा असहाय होना सब कुछ हार जाने जैसा है और तुम्हारा योद्धा बनना उस हार के मुंह से भी जीत वापस खींच कर ले आना है

प्रकृति जितनी सुंदर है अगर हमारा मन भी उतना सुंदर हो जाए तो हम कही भी रहे सदैव खुश रहेगे इस संसार में

हमें प्रकृति से सीखना चाहिए ऊंचा झरना इतनी ऊंचाई से गिरकर भी नदी का रूप ले लेता है वो झरना गिर कर भी अपना अस्तित्व नहीं खोता है वो कभी भी

वो तो निरंतर आगे बढ़ता रहता है समंदर में मिलने के लिए

अगर आप को मीठे फल खाने है तो आपको मीठे फलों के पौधे लगाने पड़ते हैं आप करेले के पौधे लगाकर मिठास तो हासिल नहीं कर सकते हैं

प्रकृति जितनी सुंदर है अगर हमारा मन भी उतना सुंदर हो जाए तो हम कही भी रहे सदैव खुश रहेगे इस संसार में

जो चीज हवा अपने साथ जितनी तेज गति से उड़ा ले जाती है वो कुछ दिनों में हमे कही जमीन पर बिखरी नजर आती है या कही खंडित अवस्था में कूड़े में पड़ी मिलती है महत्वपूर्ण ऊंचा जाना नहीं होता है महत्वपूर्ण होता है उस ऊंचाई पर खुद पर भरोसा करना हवा तो नीचे गिराएगी ही क्योंकि हवा की गति तो हर एक क्षण में बदलती रहती है फिर हवा के सहारे ऊंचाई पर रहना मूर्खता पूर्ण निर्णय है

जब कोई फलदार वृक्ष गिरता है तो वो अपनी शक्ति का प्रर्दशन नहीं करता बल्कि अपनी दुर्बलता को जगजाहिर करता है वो एक वृक्ष नहीं गिरता बल्कि प्रकृति के जुड़े आपस के जीवन श्रृंखला को प्रभावित करता है

शक्तिशाली मनुष्य तोड़ने में विश्वास कभी नहीं रखता शक्तिशाली मनुष्य सदा जोड़ने में विश्वास रखता है जो तोड़ने की बात करता है असल में सबसे बड़ा कायर वही होता है

चलने वाला चाहे कितना भी वजनी क्यो ना हो रास्ते को बस चलने वाले को उसकी सही मंजिल तक ले जाना होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.