नौकरी को प्रभावित करने वाले महत्वपूर्ण कारक

नौकरी को प्रभावित करने वाले महत्वपूर्ण कारक

दुनिया में कुछ भी हासिल करना का एकलौता तरीका है आप अपनी इच्छाओं के अनुरूप ही कार्य करे अपनी इच्छाओं के अनुरूप ही सोचे, अपने इच्छाओं के अनुरूप ही बोले हर वो कार्य जो आपके लिए महत्वपूर्ण है तभी आप हर जगह बिना किसी से प्रभावित हुए अपने कार्य को एक संतुलित रूप से कर सकते हैं जो आपको सदैव आगे बढ़ने की ताकत देगा

कार्य संतुष्टि का क्या अर्थ है

नौकरी में संतुष्टि तभी प्राप्त होती हे जब कार्य आप के योग्य हो और उस कार्य को करके आप को भी अच्छा लग रहा हो कार्य को जब बोझ न समझकर कार्य की तरह किया जाता है और उसमें अपना सम्पूर्ण समर्पण दिया जाता है तब आत्मसंतुष्टि मिलती है तथा नौकरी में संतुष्टि की प्राप्ति होती है कार्यरत लोगों को वहां पर प्रयाप्त धन की प्राप्ति होती है जो उसकी योग्यता के अनुरूप कंपनियों के द्धारा दिया जाता है कर्मचारी की सारी पूर्ति आर्थिक रूप से उस नौकरी से ही प्राप्त होती है और वो अपने काम से खुश हैं तथा जिस स्थान पर वह कार्य कर रहा है उससे वह खुश हैं तभी तो सार्थकता साबित होती है इसके अनेकों महत्वपूर्ण पहलू है 

नौकरी को प्रभावित करने वाले 20 कारक :– 

  • ईमानदारी :– ईमानदारी से अगर आप कार्य करते हैं कहीं भी आप काम करें तो एक अलग सुकून मिलता है क्योंकि इमानदारी इंसान के व्यक्तित्व का आईना होता है और इस आईने में उसकी सूरत ज्यादा मुस्कुराते हुए दिखती है जो मेहनती और ईमानदार होते है
  • आत्मविश्वास :– कहीं न कहीं आप के कार्य में अपने काम के प्रति संतुलित के लिए आत्मविश्वास होना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि आत्मविश्वास से किसी कार्य को करने का उत्साह काफी ज्यादा होता है और आप को पता होता है की परिस्थितियां कितनी भी खराब क्यो न हो आप उसे संभाल सकते हैं क्योंकि आप का तो यही काम है बस ये आत्मविश्वास आप को बहुत ही कामयाब बनाता है
  • सीखने की प्रवृत्ति :– अगर आप के भीतर सदैव सीखने की प्रवृत्ति है तो आप वाकई में अपने कार्यस्थल में सबके लिए प्रेरणास्रोत बन सकते हैं क्योंकि अक्सर देखा गया है की लोग किसी भी नये कार्य को करने से बचते हैं कोशिश करते हैं की उन्हें वो कार्य न करना पड़े और आप जब ये करते हैं तो इससे आप के भीतर किसी भी काम को करने को लेकर जिज्ञासा ही आप की विशेषता बन जाती हे जो भीड़ में आप को सबसे अलग बनाती से
  • समय की उपयोगिता :– जब आप प्रत्येक दिन समय पे अपने कार्यालय पहुंचते हैं तथा अपने निर्धारित काम को समय पर पूरा कर देते हैं तो कहीं न कहीं आप को भी ये चीज खुद की अच्छी लगती है और आप के ऊपर के अधिकारियों को भी आप की ये बात पसंद आती है
  • काम से काम रखना :– जब आप अपने कार्यालय में केवल अपने काम से काम रखते है तो आप कार्यालय के उस राजनीतिक का हिस्सा नहीं बनते जहां कार्य को कम और चापलूसी को ज्यादा अहमियत दी जाती है ये बात कही न कही आप को भी खुद के प्रति एक सच्चे कर्मचारी के रूप में व्यवस्थित करती है तथा कार्यालय के उच्च स्तरीय अधिकारी भी आप के इस बात से कहीं न कहीं प्रभावित अवश्य होते है
  • आप का अपने जूनियर साथी के साथ किया जाने वाला व्यवहार :– आप को कभी न कभी ये जरुर प्रभावित करता है जब आप देखते हैं कि जो आप के साथी है वो कैसा व्यवहार कर रहे हैं उन के साथ जो कार्यालय में नये आए है आप बिल्कुल एक मित्र की तरह एक भाई की तरह अपने जूनियर के साथ उनके काम को लेकर उनकी कमियों पर उनका मार्गदर्शन कर रहे हो ये भी कहीं न कहीं आप को एक संतुष्टि ही देती है अपने कार्य को लेकर
  • Promotion in job :– job satisfaction के लिए सबसे आवश्यक है जब आप को promotion मिलता है तो आप को कभी न कहीं लगता है कि आप के काम की कद्र हो रही है और आप जिस चीज के हकदार है वो कहीं न कहीं आप को मिल रहा है इससे आप का आप के काम और आप की कम्पनी दोनों पर भरोसा मजबूत होता है 
  • आप के office का माहौल :– आप के office का माहौल कैसा है ये आपके job satisfaction का सबसे महत्वपूर्ण केंद्र बिंदु होता है क्योंकि अगर आप अपने office के माहौल से संतुष्ट हैं तो ये आपको कहीं न कहीं आप को सुरक्षा की भावना प्रदान करता है 

जहां सुरक्षा की भावना है वहां आत्मसंतुष्टि स्वयं ही मिल जाती है 

  • आप का काम :– सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण तो आप का काम ही होता है आप जिस कार्य को कर रहे हैं उसमें आप का मन लग रहा है की नहीं या फिर वो काम आप को करना पसंद है की नहीं आप को इस काम को करके खुशी मिलती है की नहीं क्योंकि जब तक आप को काम करके ख़ुशी नहीं मिलती है तब तक आप को संतुष्टि नहीं मिल सकती है
  • आप की salary :-आप कि salary भी कहीं न कहीं आप को काफी अधिक प्रभावित करती है अगर आप की salary ठीक-ठाक है तो आप को अपने काम के हिसाब से खुद में satisfaction महसूस होता है क्योंकि आप को कही न कही ये जरुर एहसास होता होगा जो आप को salary मिल रही है वो कहीं न कहीं आप के काम का उचित मूल्य आप को मिल रहा है 
  • सब की प्रमुख :– आप के office का माहौल ऐसा हो जहां हर किसी को अपनी बात रखने की पूरी छूट मिले office प्रशासन सब की बातों को ध्यान पूर्वक सुनता है इससे कहीं न कहीं आप का अपने office और खुद पर और भी भरोसा होने लगता है  और उस कम्पनी के लिए आप और लोगों को भी बताते हैं कि आप की company कितनी अच्छी है जो satisfaction को एक अलग ही स्तर पर ले जाता है
  • Extra income :– जब आप अपने reference से किसी की joining करवाते हो तो आप को उसके बदले कम्पनी की तरह से salary के साथ extra bonus भी मिलता है जो अपने कर्मचारियों के लिए कम्पनियों के द्धारा एक अच्छी पहल है जिसे दोनों ही लाभांवित होते हैं कम्पनी और उसके कर्मचारी 
  • परिवाहन सुविधा :- जब कम्पनी अपने कर्मचारियों को परिवाहन कि सुविधा प्रदान करती है घर से कार्यालय आने के लिए फिर कार्यालय से जाने के लिए जिससे आप का office जाने और आने मे लगने वाला महत्वपूर्ण समय बचता है और जिससे हम बाकी का बचा प्रयाप्त समय अपने परिवार को दे पाते हैं
  • सुविधाएं  और भी प्रकार की :– जब आप के office  में जिम की सुविधा उपलब्ध होती है Indore game की सुविधा होती है तो आप को मनोरंजन के लिए कहीं बाहर जाने की आवश्यकता नहीं होती सारी पूर्ति आप के office में ही हो जाती है जो कहीं न कहीं मन को अपने काम को लेकर आश्वस्त करता है की मैं सही जगह पर काम कर रहा हूं
  • कैंटीन :– आप के office का कैंटीन अच्छा है तो आप को बाहर से खाने के लिए कोई चीज मंगानी नहीं पड़ती जिससे आप के delivery का खर्च बचता से और अपने कैंटीन के साफ-सफाई से कहीं न कहीं आप आश्वस्त रहते है खाने को लेकर
  • It विभाग :–  office का it विभाग कितनी तेजी से काम करता है आप के system में तकनीकी खराबी आती है तो office का it विभाग कितनी देर में ठीक करता है system इससे भी कहीं न कहीं job को लेकर satisfaction मिलता है
  • Training process :– आप के office का training process कैसा है किस तरीके से नये लोगों को training देता है और आप उसके बताने के तरीके से कितने प्रभावित होते हैं ये भी कहीं न कहीं सुरक्षा की भावना पर जोड़ देता है और training room कैसा है system कैसे है ये सब भी कहीं न कहीं काफी मायने रखता है 
  • Celebration :– तमाम त्योहारों में office मे celebration होता है की नहीं culture program आयोजित होता है कि नहीं ये सारे factors भी कहीं न कहीं बहुत ज्यादा प्रभावित करते हैं
  • Leave :– हर महत्वपूर्ण मौकों पर छुट्टीयां होती है की नहीं छुट्टी किसी काम के लिए हफ्ते या दस दिनों की आराम से मिलती है कि नहीं क्योंकि किसी भी employee के लिए leaves सबसे ज्यादा मायने रखती है ये कहीं न कहीं हमें सबसे ज्यादा प्रभावित करती है अगर leaves का system अच्छा है तो हर employee खुश ही रहता है
  • Medical, PF, Insurance Policy :– office के तरफ से medical की सुविधा है pf की सुविधा है और employee के insurance policy की सुविधा है तो employee के अपने काम के प्रति और office के प्रति सम्मान झलकता है

नौकरी विश्लेषण और नौकरी से संतुष्टि के बीच संबंध :

1. कार्य मानव के विकास के लिए है न कि उसके मानसिक पतन के लिए

2. सकारात्मकता माहौल में मनुष्य अवश्य तरक्की करता है

3. Office भी हमारा दूसरा परिवार होता है जहां घर के बाद हम सबसे ज्यादा समय व्यतीत करते हैं

4. हर कार्य के लिए उचित सम्मान होना आवश्यक है

5. हमे सदैव अपने आत्मविश्वास के साथ कार्य करना चाहिए

6. सदैव कार्य प्रगति के लिए होना चाहिए

7. मन से दूसरों का सम्मान करेंगे तो हमें भी सम्मान मिलेगा

8. हमें अपने कार्यालय के लोगों के साथ सदैव दोस्ताना व्यवहार करना चाहिए

9. प्रगति और विकास आप के कार्य की कुशलता पर निर्भर करता है

10. हमें वर्तमान में भविष्य की तैयारी करनी चाहिए ताकि जीवन सुखमय हो सके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *