For Success in Life best tips : सफलता पाने के नियम

समस्या कैसी भी हो आपके सामने ज्यादा देर तक नहीं टिकनी चाहिए
सफलता पाने के लिए सबसे जरूरी क्या होता है? और कौन सा गुण आवश्यक है और क्यों?

सफलता हासिल करने के लिए अक्सर अच्छे और रचनात्मक विचारों को अपने जीवन मे जगह देनी चाहिए क्योंकि अगर हम जटिल और व्यर्थ के बातो पर ही अपना सारा ध्यान केंद्रित कर देगें तो हम वो हासिल नहीं कर पाएंगे जो हमे हासिल करना है सफलता वैसा ही है जैसे किसी छोटे बच्चे का पहला कदम जो चलना नहीं जानता है लेकिन वो जितनी कोशिश करेगा जितनी बार वो गिरेगा उसके चलने की संभावना बढ़ जाएगी और देखते ही देखते कुछ दिनों मे वह दौड़ने लगेगा

सफलता वैसा ही है जैसे किसी छोटे बच्चे का पहला कदम जो चलना नहीं जानता है लेकिन वो जितनी कोशिश करेगा जितनी बार वो गिरेगा उसके चलने की संभावना बढ़ जाएगी

किसी भी असफल चीज को हम सफल बनाने के लिए जितनी बार कोशिश करेगे परिणाम हर बार बेहतर से बेहतर मिलने लगेगे और आखिरकार एक दिन वही असफल चीज देखते -देखते सफल चीज मे तब्दील हो जाएगी क्योंकि किसी चीज को हम जितनी बार करेगें सफल होने लगेगे सफलता इसे ही तो कहते है सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण गुण ये होना चाहिए की हमे अपना सारा का सारा ध्यान वही लगाना चाहिए जो हमे जीवन मे चाहिए और जो जीवन मे नही चाहिए उसके तरफ हमे बिल्कुल भी ध्यान नही देना चाहिए

जीवन का सबसे बड़ा मूल मंत्र है आम आदमी हमेशा खुद की सुरक्षा के बारे मे चिंतित रहता है क्योंकि उसे उसी हाल में जीना पसंद है जिस हाल मे वो जी रहा है क्योंकि वे इसी मे खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं जबकि असाधारण आदमी सदैव अवसरो की तलाश मे रहता है और जब वो अवसर उसके जीवन मे दस्तक देते है तो वो उन्हें जाने नहीं देते हैं

असाधारण आदमी सदैव अवसरो की तलाश मे रहता है और जब वो अवसर उसके जीवन मे दस्तक देते है तो वो उन्हें जाने नहीं देते हैं
किसी कार्य मे सफलता प्राप्त करने के लिए क्या करना पड़ता है?

किसी भी कार्य में सफलता प्राप्त करने के लिए जो सबसे जरूरी है वो डर का सामना कैसे करते हैं खुद पर नियंत्रण कैसे रखते है जब ऐसा लगता है की सफलता हमसे दूर जा रही है फिर उस परिस्थिति मे वो खुद को कैसे उभारते है या दबाते है इसका सारा दारोमदार इसी बात पर निर्भर करता है जो चीजे अक्सर हमे पीछे खीचता है उनमें सबसे प्रमुख है

1. डर :- जो हमारा हाथ कभी नहीं पकड़ता है लेकिन हम ही वो व्यक्ति होते है जो खुद ही डर कर हाथ पकड़े रहते है और उसे कभी छोड़ना ही नहीं चाहते हैं जिस दिन हमने डर का हाथ छोड़ दिया उस दिन हम सफल हो जाएंगे

2. निराशावाद :- प्रायः शंकाओं से ही निराशावाद की शुरुआत होती है जब शंकाऐ मन मे कोई रूप का निर्माण करने लगती है तो हम अक्सर गहरी चिंतन करने लगते हैं जैसे मै यह काम कर ही नहीं सकता ये मेरे लायक काम है ही नहीं ये काम मुझ से बेहतर हर कोई कर लेगा सिवाय मुझे छोड़कर यही विचार मनुष्य को निष्क्रिय कर देती है और वो कुछ नहीं कर पाता है इसलिए मन मे फजूल के विचारों को जगह नहीं देगें

3. आलस पर फतह :- अक्सर शब्द बहुत ताकतवर होते है लेकिन शब्द आपके दिमाग को कभी -कभी कमजोर कर देते हैं और आपके मन मे ये एहसास दिलाते है की मै कल से इस कार्य को करूँगा आज थोड़ा आराम कर लेते है और यही भाव आपके मन में ऐसे घर कर लेते है और ये भाव हर दिन आपको कुछ भी करने से रोक देते हैं

जो हमारा हाथ कभी नहीं पकड़ता है लेकिन हम ही वो व्यक्ति होते है जो खुद ही डर कर हाथ पकड़े रहते है और उसे कभी छोड़ना ही नहीं चाहते हैं
सफलता के लिए आवश्यक गुण

जो गुण किसी भी सफल व्यक्ति में होते है वो प्रायः ये कहना पसंद करते है मै ये कितनी जल्दी कर सकता हूँ क्योंकि मुझे ये करना ही है जब तक मै इसे नहीं करूँगा तब तक मै चैन से नहीं बैठूंगा लेकिन असफल व्यक्ति हमेशा यही कहता है ये मुझ से नहीं हो सकता मेरी इतनी क्षमता नहीं है इसे करने की असम्भव से सम्भव तक का ही तो ये सफर ना से हां तक की यात्रा ही तो सफलता के लिए सबसे महत्वपूर्ण है इंसान इस कायनात की सबसे सफल रचना है वो अपनी मेहनत से कुछ भी कर सकता है वो सब कुछ पा सकता है जिसकी उसे जरूरत है भले ही लक्ष्य मुश्किल हो लेकिन संसार में कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं है बस हमे बुरी आदतों को हर हाल मे पार करना होगा अंहकार को पार करना, निराशावाद को पार करना

हमे बुरी आदतों को हर हाल मे पार करना होगा अंहकार को पार करना, निराशावाद को पार करना

सफल बनने के लिए हमे सफल आदतों को अपनाना होगा क्योंकि ज्यादा लालच बुरा होता है लेकिन थोड़ा लालच आपको प्रेरित करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है क्योंकि सपने अगर दिल से देखे जाएं और उसे पूरा करने के लिए पूरी शिद्दत से मेहनत की जाए तो सफलता अवश्य मिलती है यदि आपके पास कोई प्रबल कारण नहीं सफल होने के लिए तो आगे बढ़ने मे आपको ये बहुत मेहनत भरा लगेगा

सफल जीवन के लिए प्रेरणादायक नियम

किसी ने सच ही कहा है की सफलता की हर कहानी महान असफलताओं की भी कहानी है इंसान को कामयाब बनाने वाली खूबियाँ कुछ खास होती है

1. ख्वाहिश :- सफल होने की प्रेरणा अक्सर हमे किसी मकसद को हासिल करने की गहरी इच्छा से ही प्राप्त होता है क्योंकि अक्सर इंसान का दिमाग जिन चीजों को सोच सकता है उन्हें हासिल करने की क्षमता रखता है

2. अपने वाक्यो पर कायम रहना :- वचनबद्धता उसे कहते है जहाँ आपको धन का नुकसान उठाना पड़ रहा हो फिर भी आप अपने वचनो से पीछे नहीं हटते है लेकिन ये बुद्धिमानी के दायरे मे नही आता है अक्सर सफलता और खुशियाँ जीवन मे हमारे फैसले के नतीजे होते हैं अक्सर जीवन मे कुछ पाने के लिए वचनबद्धता ही होती है और इसे पाने के लिए परिस्थियाँ कभी अनुकूल नहीं होती है और वैसी परिस्थितियां बनती भी नहीं है हमे परिस्थितियां खुद बनानी पड़ती है अक्सर जीतने की प्रबल इच्छा ही अपने वाक्यो का अर्थ सिद्ध कर पाती है

इंसान का दिमाग जिन चीजों को सोच सकता है उन्हें हासिल करने की क्षमता रखता है
अपने आप मे विश्वास सफलता के लिए पहला रहस्य है

अपने आप मे विश्वास तभी होगा जब हम खुद के लिए काम करना शुरू कर देगे क्योंकि हम जिंदगी भर दूसरो के लिए काम करके सारा जीवन निकाल देते है अक्सर यही होता है आप जिस चीज का अध्ययन करते है आप वही बन जाते हैं और अपने खुद के काम पर ध्यान केंद्रित करना भूल जाते हैं और जीवन भर आप किसी दूसरे के लिए दिन भर घंटो तक बिना थके काम करते है और जिसका लाभ उसे मिलता है ना की उन्हें जो उनके लिए कार्य कर रहे है

बहुत से लोग होते है जिनकी वित्तीय हालत अच्छी नहीं होती कारण होता है उन्हें अपने नौकरी खोने का डर हमेशा सताता रहता है और इसके आगे वो ये समझ नहीं पाते की छटनी आम बात होती है ये नौकरी ही उनकी संपत्ति होती है जिसके खोने से उनमें आर्थिक बोझ आ जाता है इसका मुख्य कारण है की उन्होंने दूसरो को उन्नति प्रदान की जबकि खुद वही रहे जहाँ थे इसी सोच से मुक्ति है खुद के कार्यो पर विश्वास,अपने खुद के लिए काम करे

जीवन भर लोग किसी दूसरे के लिए दिन भर घंटो तक बिना थके काम करते है और जिसका लाभ उसे मिलता है ना की उन्हें जो उनके लिए कार्य कर रहे है

ऐसे बहुत से लोग है जिन्होंने दूसरो की नौकरी करते हुए अपना जीवन बिता दिया लेकिन आखिर मे उनके पास क्या बचा कुछ नही अगर आप पैसे के लिए काम करते है तो आप उन्हें ताकतवर बनाते है जो आपको नियुक्त करते है लेकिन खुद के लिए काम करते है तो खुद को ताकतवर बनाते है यही खुद पर किया विश्वास सफलता का रहस्य है

सफलता के पांच नियम

1. विश्वास करे की आप सफल हो सकते हैं और ये विश्वास आपको यकिनन सफल बना देगा, आस्था से पहाड़ हिलाया जा सकता है आप विश्वास करे आप मे पहाड़ हिलाने की क्षमता है पर आपने कभी कोशिश नहीं की

2. खुद को ये यकीन दिलाएँ की आप जितना खुद को समझते है आप यकिनन उससे भी बेहतर है अपनी क्षमताओं पर विश्वास करें जो आप मानते है वो आप कर भी सकते हैं कभी खुद को कमजोर समझने की गलती ना करे

3. बड़ी सोच मे विश्वास करे आपकी सफलता का आकार कितना बड़ा होता यह आपके विश्वास के आकार पर तय होगा सफलता कितने देर से मिलेगी ये आपके मेहनत से तय होगा

4. कभी इस पर विचार नहीं करे क्या किया जा सकता है सदैव इस पर विचार करे क्या कर सकते है और आप कार्य करना शुरू कर दे

5. सदैव सफलता के लिए कार्य योजना बनाने की आदत हमें अपनानी होगी और उस पर निरंतर प्रयास करना चाहिए हम जितना अभ्यास करेंगे उतनी जल्दी सफल हो जाएगे जिस तरह से किसी पेड़ में हम खाद पानी डालते है और वह तेजी से हर सप्ताह बढ़ता जाता है उसका आकर बड़ा होता जाता है देखते -देखते वो बहुत बड़ा बन जाता है ठीक उसी प्रकार से सफलता है

सफलता के लिए कार्य योजना बनाने की आदत हमें अपनानी होगी और उस पर निरंतर प्रयास करना चाहिए हम जितना अभ्यास करेंगे उतनी जल्दी सफल हो जाएगे
जीवन नियम

अक्सर हर जगह सोना बिखरा रहता है लेकिन उसे पहचानता बस जौहरी ही है रेगिस्तान मे पानी वही तलाश कर सकता है जो सचमुच मे प्यासा हो जिसके प्राणो पर संकट हो जीवन का नियम है उद्देश्य क्योंकि बिना उद्देश्य के जीवन निर्थक है जीवन को हमे किसी उद्देश्य के साथ आगे लेकर जाना है क्योंकि जब जीवन मे नया विचार आता है तो बहुत से लोग उस विचार को नहीं अपना पाते उस विचार से बचाव के बहाने ढूंढते है क्योंकि अब हमे चीजों को नये तरीके से समझने की जरूरत है जो लोग जीवन मे नये विचार को अपना नहीं पाते वो हर वक़्त अपनी गलतियों को छूपाने की कोशिश करते है इसके लिए उन्हें किसी की आलोचना करना बहुत आसान लगता है बशर्ते उस नये विचार के प्रति सम्मान दिखाकर उसे अपनाकर सही दिशा में कदम बढ़ाने के

जो लोग जीवन मे नये विचार को अपना नहीं पाते वो हर वक़्त अपनी गलतियों को छूपाने की कोशिश करते है इसके लिए उन्हें किसी की आलोचना करना बहुत आसान लगता है
सफलता के लिए जरूरी है खुद को जानना

ज्यादातर लोगों का व्यवहार उलझनों से भरा होता है इसका कारण है सोच

हम जो खुद को समझते है हमे जीवन मे उसी प्रकार का व्यवहार मिलता है जो हम दूसरो मे देखते है वही दूसरे हममें भी देखते हैं आप क्या सोच रहे है आपकी यही सोच यह तय कर देती है की भविष्य मे आप किस तरह कार्य करेगें और दूसरो का व्यवहार आप के प्रति किस प्रकार के हो सकता है यह हम पर निर्भर करता है की जीवन मे हम दूसरो से सम्मान कैसे हासिल कर सकते है क्योंकि जब हम असफल और किसी निर्धन को देखते है तो हम सम्मान की दृष्टि से नहीं बल्कि उनको कमजोर और लाचार की दृष्टि से देखते है इसी फर्क को मिटाने से हम सबसे सम्मान हासिल कर सकते है जो सदैव के लिए स्थायी रहेगा

भविष्य मे आप किस तरह कार्य करेगें और दूसरो का व्यवहार आप के प्रति किस प्रकार के हो सकता है यह हम पर निर्भर करता है की जीवन मे हम दूसरो से सम्मान कैसे हासिल कर सकते है
मेहनत से ही मिलती है सफलता

मेहनत की राह पर लोग चलना तो शुरू करते है लेकिन कुछ दूर चलकर मुड़ जाते हैं क्योंकि मेहनत की राह पर चलना लोगों को बहुत मुश्किल नजर आती है कारण है इच्छा शक्ति का आभाव, मन में इच्छा है लेकिन हौसला नहीं है करने की क्योंकि जब आप लगातार मेहनत करते है और आपको झटके लगते रहते हैं फिर भी आप अपनी राह पर चलते रहते है अपनी पकड़ कमजोर नहीं बनने देते है हो सकता है जिस राह पर आप चल रहे हो उस पर आप फिसल कर गिर जाएं आपको चोट भी आए मगर आप उस राह पर चलना बंद नहीं कर सकते क्योंकि आप जानते हैं की अगर आप को मंजिल पर पहुँचना है तो आपको ऊबड़ खाबड़ मार्ग पर चलना पड़ेगा क्योंकि आपकी मेहनत मायने नहीं रखती ना ही आपका दर्द या आपकी चोट मायने रखती है जिस रास्ते पर आप चल रहे है अगर कुछ मायने रखती है तो मंजिल पर पहुँचने की आपकी खुशी क्योंकि आप की सक्रियता आपके भीतर की निष्क्रियता को परास्त कर देती है

जिस राह पर आप चल रहे हो उस पर आप फिसल कर गिर जाएं आपको चोट भी आए मगर आप उस राह पर चलना बंद नहीं कर सकते क्योंकि आप जानते हैं की अगर आप को मंजिल पर पहुँचना है तो आपको ऊबड़ खाबड़ मार्ग पर चलना पड़ेगा
इंतजार करना बंद करिए सही समय कभी नहीं आता

सिर्फ जिनके इरादे मजबूत होते है वही अपने कर्तव्य से मुंह नहीं मोड़ते कठिनाईयों का सामने करने से जी नहीं चुराते और प्रभावशाली व्यक्ति के रूप मे उभरते है अगर आप को श्रेष्ठ परिणाम हासिल करने है तो आपको अपनी आदतों में भी बदलाव करने की आवश्यकता की जरूरत है हमे उस माहौल का हिस्सा नहीं बनना है जहाँ लोग इंतजार के भरोसे बैठे रहते है और सही समय का इंतजार करते है बल्कि हमे ये समझना होगा हम जीतने के लिए आये है और हम हार को बिल्कुल स्वीकार नहीं कर सकते क्योंकि ऐसा करने वाला हम नहीं है वो कोई और होगा हमे ये बात समझना होगा किसी के प्रेरित होकर कोई व्यक्ति कार्य करता है और यही प्रेरणा उसे सफलता दिलवाती है ये सफलता उसकी आदत बन जाती है

आप को श्रेष्ठ परिणाम हासिल करने है तो आपको अपनी आदतों में भी बदलाव करने की आवश्यकता की जरूरत है हमे उस माहौल का हिस्सा नहीं बनना है जहाँ लोग इंतजार के भरोसे बैठे रहते है
असफलता पर कतई  करें नकारात्मक टिप्पणी

अगर इंसान मे व्यावहारिक समझ ना हो तो उनकी शिक्षा और ज्ञान शून्य के समान है क्योंकि अज्ञानी होना कतई बुरा नहीं है जितना बुरा है किसी के असफलता का मजाक उड़ाना क्योंकि ये वैसा ही है जैसे हमने अपनी ज्ञानेंद्रियों का उपयोग करना शायद छोड़ दिया हैं क्योंकि कुदरत ने सबको कुछ न कुछ खुबिया दी है बस हमे उन खूबियों का उपयोग खुद के जीवन को सही दिशा मे आगे बढ़ाने मे लगाना है ना की किसी के असफलता के मजाक बनाने मे क्योंकि अगर हमारे दिमाग को ताजी हवा नहीं मिलती तो शरीर और सोच दोनों दूषित हो जाते है इसलिए सही राह पर चलने के लिए हमे अपने दिमाग को सही कार्य मे लगाना चाहिए नहीं तो ये बिल्कुल वैसे ही है जैसे अपने पैरों पर कुल्हाड़ी से वार करना, हम उस व्यक्ति के मेहनत को जितना उसने समय लगाया उसके समय को और असफलता प्राप्त करने से जो मानसिक पीड़ा हुई होगी हम उसकी भरपाई नहीं कर सकते इसलिए हमे कोई हक नहीं किसी का ऐसे मजाक उड़ाने का

अपने दिमाग को सही कार्य मे लगाना चाहिए नहीं तो ये बिल्कुल वैसे ही है जैसे अपने पैरों पर कुल्हाड़ी से वार करना
करियर में सफलता पाने के लिए सबसे पहले अपनी काबिलियत की करे पहचान

सफलता प्राप्त करने के लिए हमे कुछ बहुत ही खास कार्य करने की जरूरत नहीं है बल्कि आवश्यक है तो बस कार्य को सही संतुलित तरीके से करने की काबिलियत एक प्रकार का हुनर ही तो है जो हार मे भी पूर्ण संयमित रूप से शांत रहकर अपने कार्य को जीत मे दबदील कर देता है अगर आप मे ये गुण विधमान है तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है

1. अपने दिन की शुरुआत अच्छे ढ़ंग से करे

2. जो काम जरूरी है उसे तुरंत करने की आदत डाले

3. नकारात्मक असर से खुद को दूर रखना

4. हमेशा कुछ नया और अच्छी चीजो की तलाश करना

5. लोगों के प्रति सम्मान देने की प्रवृत्ति

6. लगातार कुछ न कुछ सीखते रहना

7. सदैव अपने स्वाभिमान को कायम रखना

हमेशा कुछ नया और अच्छी चीजो की तलाश करना चाहिए
बेहतर भविष्य के लिए सफलता क्या है

सफलता का मतलब होता है जीतना, प्रशंसा के योग्य बनना, अपने जीवन मे सम्मान पाना, चिंताओं से डर से कुंठाओं से खुद को मुक्त करना ही बेहतर भविष्य की सफलता के रूप मे देखा जाता है हमें हमेशा उन लोगों से सीखना चाहिए जो हमेशा सकारात्मक बातें बताऐ अपनी परेशानियों से कैसे लड़कर बाहर निकलते है उनके अनुभवों को जीवन मे अपनाना चाहिए अगर आप कोई भी कार्य खुश रहकर करते है तो आपके जीवन की आधी परेशानियां ऐसे ही हल हो जाएगी कभी कोई कार्य खिन्न भिन्न मन से ना करे क्योंकि इससे आपके असफल होने की संभावना बढ़ जाती है और जब आप प्रसन्नता पूर्वक कोई कार्य करते है तो आप को कार्य करने मे आनंद भी आऐगा

आप प्रसन्नता पूर्वक कोई कार्य करते है तो आप को कार्य करने मे आनंद भी आऐगा
बेहतर भविष्य और सफलता के संबंध मे प्रेरणादायक कथन

जीवन एक पाठ्यक्रम है और आप उस पाठ्यक्रम को पढ़ रहे हो अगर आपने इस पाठ्यक्रम को ठीक से पढ़ना सीख लिया तो आप निश्चित रूप से इस पाठ्यक्रम का लाभ अपनी हर एक परिस्थितियों मे ले सकते हैं कड़ी मेहनत करके भी अगर जीवन के महत्वपूर्ण क्षणो का अगर आप आनंद नहीं ले सकते हैं तो आप की मेहनत का आपको सही मूल्य नहीं मिला रहा है

सफल भविष्य बनाने के लिए हमें क्या करना चाहिए

सफल भविष्य बनाने के लिए जीवन मे सदा आगे बढ़ने के लिए हमें स्वंय प्रयास करना चाहिए आप को किसी से कोई उम्मीद की अपेक्षा नही रखनी है की क्योंकि प्रयास मे आप जितनी गंभीरता दिखाएंगे आपके आगे बढ़ने की संभावना उतनी ही बढ़ती जाएगी जब तक हमारे इरादो मे फौलादी मजबूती नहीं आती है तब तक हम जीवन में चट्टान जैसी समस्या से नहीं निपट सकते हैं कोशिश तब तक करते रहना है जब तक आपके सपने पूरे नहीं हो जाएं हमें दूसरो की उन बातो को नजरअंदाज करना है जो हमे पीछे की ओर ढकलेती है

प्रयास मे आप जितनी गंभीरता दिखाएंगे आपके आगे बढ़ने की संभावना उतनी ही बढ़ती जाएगी
असफलता ही इंसान को सफलता का मार्ग दिखाती है

अगर आप असफल है और अपनी असफलता मे अपनी कमियो की वजह आप जानते है और उसे अपनी गलती के रूप मे स्वीकार करते है दिल से की कमी आप में थी जो आप ने पूरे मन से प्रयास नहीं किया अगर हमे सफलता प्राप्त करनी है तो हमारे भीतर हिम्मत होनी चाहिए उस गलती को सही करने की लेकिन कोशिश ना करना उस असफलता से भी बड़ी गलती है और यही गलती सही फैसला ना लेने की आदत बन जाती है आप खतरे उठाये जीवन मे मगर अपने आंख, कान , नाक को खोलकर जीवन मे गौर जिम्मेदारी वाला रवैया ज्यादा खतरनाक है इसलिए आत्मविश्वास और काबिलियत का उपयोग सही दिशा मे करे अगर असफल होने का खतरा है तो कोई बात नहीं कम से कम प्रयास तो अवश्य करना चाहिए

लाइफ में सफल होने के लिए एक व्यक्ति को चाहिए

1. सफलता तभी प्राप्त होगी जब हम मेहनत भी सफल होने के लिए ही करेंगे

2. सफलता प्राप्त करने के लिए हर समय करने के लिए कुछ ना कुछ कार्य अवश्य होता है और जो कहते हैं उनके पास कोई कार्य नहीं है वे केवल खुद से और परिस्थितियों से ही भाग रहे हैं

3. असफलता और सफलता के बीच उतना ही फर्क है जितना कुछ करने और कुछ नहीं करने में होता है

4. असफलता एक रास्ता है खुद को पहचानने का

5. एक सफल व्यक्ति वहीं है जो जीवन भर कुछ न कुछ सीखता रहता है

6. जीवन एक युद्ध है और हमारी भूमिका युद्ध में क्या होगी ये हमें ही तय करना है

7. सीखने की कोई उम्र नहीं होती है मैं जब तक रहूंगा हर रोज नया कुछ न कुछ सीखता ही रहूंगा

8. परिवर्तन सदा मन में होता है वास्तविकता में जो घटित होता है वो केवल भय होता है

9. प्रकाश के तभी मायने हैं जब हमारे भीतर भी प्रकाश मौजूद हो

10. परिस्थिति हमें योद्धा बनाती हैै 

परिवर्तन सदा मन में होता है वास्तविकता में जो घटित होता है वो केवल भय होता है
जीवन में सफलता पाने के तरीके 

हमें सदैव बिना संकोच किए लगातार प्रयास करते ही रहना है क्योंकि जो रूक जाते है वो सफलता के लिए तैयार ही नहीं है अपितु उनमें हिम्मत नहीं है निरंतरता से  बढ़ने के लिए क्योंकि वो निराश हो जाते हैं और जो पूरी हिम्मत से बिना रुके काम करते हैं उनकी ही कहानी सब को अक्सर सुनाई जाती है  

सदैव बिना संकोच किए लगातार प्रयास करते ही रहना है क्योंकि जो रूक जाते है वो सफलता के लिए तैयार ही नहीं है
अपना लक्ष्य कैसे चुनें 

जीवन में जरूरी नहीं की हम दूसरो को देखकर ही अपना लक्ष्य चुने जो कोई व्यक्ति जीवन में कुछ कर रहा है और उसमें उसने सफलता प्राप्त कर ली तो हम उसे देखकर ही अपना लक्ष्य निर्धारित करें हो सकता है उस काम को आप उतने बेहतर तरीके से नहीं कर पाए
हम जो कार्य को बेहतर तरीके से कर सकते है जिसे हम ज्यादा अच्छे तरीके से करने में सक्षम हैं भला वो कार्य क्यो न करें किसी की नकल करने के बजाय
जीवन में सदैव वहीं कार्य करना चाहिए जिससे आप का मन लगे न की वो कार्य जो आप को बोझ प्रतित हो जिसे आप बिना किसी उत्साह के बस खानापूर्ति के लिए करते जाएं उससे ना ही आप को लाभ होगा और ना ही उन लोगों को लाभ होगा जिनके लिए आप कार्य कर रहे हैं इसलिए सदैव वहीं कार्य करें जो आप का दिल चाहे जो आप को करने में खुशी हो ना की मायूसी
तभी तो परिणाम सकारात्मक सोच के अनुरूप होगें

व्यापार एवं नौकरी में सफलता के उपाय

 
व्यापार और नौकरी में सफलता पाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं है जिन पर गौर करके सफलता प्राप्त की जा सकती है
1. संयमित होकर काम करना चाहिए
2. विचलित नहीं होना चाहिए परिस्थितियों को समझना है फिर उनके अनुरूप कार्य करना चाहिए
3. कुछ दिनों तक सभी चीजों को ध्यान पूर्वक समझने की आवश्यकता होती है क्योंकि इंसान जितना सीखेगा उतना उसे अनुभव प्राप्त होगा अनुभव ही इंसान को कठिनाई भरे समय में उबारती है
4. कोई भी कार्य जल्दबाजी में नहीं करे किसी भी प्रकार की हड़बड़ी ना करें
5. पहले लोगों को ध्यान से सुनें वो क्या कह रहे हैं फिर उसके अनुसार कार्य करें
6. कोई भी कार्य करें तो सबसे पहले सफलता और असफलता का विचार त्याग दें और केवल अपने कार्य पर ध्यान केंद्रित करें सफलता अवश्य मिलेगी

कोई भी कार्य जल्दबाजी में नहीं करे किसी भी प्रकार की हड़बड़ी ना करें
कामयाब होने के टोटके

 
कामयाब होने के टोटके है रोज की गई मेहनत
आप के द्धारा हर रोज किया गया कार्य बिना किसी रूकावट के अर्थात टालने की प्रवृत्ति से कोसों दूर हो
मधुर भाषी और विनम्रता ये सबसे महत्वपूर्ण कामयाबी के टोटके है

इरादे है फौलादी मेरी इतनी मुझ में जान है

चट्टानें जब टकराये मुझ से बिखर-बिखर कर बन जाए टुकड़े

यही तो मेरी खुद की पहचान है

खुद को बेड़ियों से आजाद करना अपनी इच्छाओं के लिए प्रयत्न करना ही स्वतंत्रता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *